What is Ransomware – रैनसमवेयर क्या है, इसके प्रकार और यह कैसे काम करता है?


क्या आप Ransomware के बारे में जानते है? यह आपके कंप्यूटर को लॉक कर फिरौती की मांग करता है। Ransomware और रैंसमवेयर के विभिन्न प्रकार के बारे में (Ransomware definition & types) जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

Ransomware definition

What Is Ransomware in hindi

Ransomware, एक प्रकार का Malware है, जो किसी Individuals Person, Businesses और organizations को, उन्हें अपने Personal Files या System documents तक पहुंचने से रोकता है।

इसके लिए Ransom malware विभिन्न तरीकों का उपयोग करता हैं, जिनमें Computer Screen को Lock करना और Important Files को Encrypt करना शामिल है। यह जरुरी फ़ाइलों को Encrypt करके, उन्हें decrypt करने के लिए Payment की मांग करते हैं।

और, ऐसी स्थिति में User या Organizations को उनकी अपनी सभी जरुरी files, databases, या applications तक पहुंच हासिल करने का अंतिम तरीका Payment करना हो जाता है। (इसकी बहुत कम संभावना होती हैं, कि Payment करने से उपयोगकर्ताओं को Infected system और files तक पहुंच मिलेगी।)

आसन शब्दों में, Ransomware एक तरह का Cyber-attack होता है, जिसमें Victim को उसका ही data एक्सेस करने से रोक कर, पैसों की माँग की जाती हैं।


Types of Ransomware – रैनसमवेयर के प्रकार

Ransomware के तीन मुख्य प्रकार हैं, जिनमें Scareware, Screen lockers, और Encryptors है।

  • Encryptors: यह Ransomware का सबसे Popular और Dangerous Variant में से हैं। यह किसी Computer या System पर मौजूद ज़रूरी Files और Data को Encrypt कर देता है, जिसे बिना decryption Key के Access नहीं किया जा सकता है। इस रैनसमवेयर के इतने खतरनाक होने का कारण यह है, कि एक बार जब Cyber Criminals आपकी Files पर पकड़ बना लेते है, तो कोई भी Security software उन्हें आपके पास वापस नहीं कर सकती है, जब तक आप फिरौती का भुगतान नहीं करते हैं। और, अगर आप ansom का भुगतान कर भी दे, तो इस बात की कोई गारंटी नहीं होती है, कि आपको उन फ़ाइलों तक वापस पहुँच मिल जायेगी।
  • Scareware: यह एक तरह के नकली सॉफ्टवेयर होते है, जो आपके कंप्यूटर पर किसी Virus या कोई अन्य Privacy issue को पता लगाने का दावा करते है। और, आपको उस Virus या Vulnerabilities को Solve करने के लिए भुगतान करने के लिए कहता है। अगर आप ऐसे किसी message को Ignore करते हैं, तो यह आपके computer screen पर Pop-Ups की भरमार लगा देते हैं, कभी कभी यह आपके कंप्यूटर को लॉक भी करते हैं।
  • Screen lockers: ऐसे रैंसमवेयर System को Lock कर उपयोगकर्ताओं को अपने Computer में Log-in करने से रोकता है। इस प्रकार का Ransomware, आपके Devices पर Store Files को Encrypt नहीं करता है। जब आपका Computer, Lock-screen ransomware से infected हो जाता है, तब कंप्यूटर को शुरू करने पर एक Lock-screen आपसे फिरौती की मांग करता है, और आपको Log-in करने से रोक देता हैं, जिस वजह से System में उपलब्ध Files और data तक पहुँच नही हो पाता हैं।

इन सबके अलावे Doxware और Ransomware as a Service (RaaS) भी एक प्रकार के Ransomware हैं।

Ransomware कैसे काम करता है?

Ransomware, asymmetric encryption का उपयोग करता है। यह एक प्रकार की cryptography है, जो किसी फ़ाइल को encrypt करने और decrypt करने के लिए एक विशेष प्रकार के private keys का उपयोग करती है।


ऐसे कई तरीके हैं, जिनसे Ransomware आपके कंप्यूटर या सिस्टम में आ सकता हैं। Ransomware को अनजाने में या किसी Compromised websites पर जाकर या फ़िर Free Download होने वाले Softwear के जरिए, से आपके कंप्यूटर में Download हो सकता है।

सबसे आसान तरीका Email phishing है, जिसमें यह आपकी Email में किसी Attachment या link के तौर पर आपके कंप्यूटर में पहुँचता हैं। जैसे ही System user उस attachment को खोलता है, या फ़िर दिए गए Link पर Click करता है, तो Ransomware कंप्यूटर को संक्रमित कर देता है।


एक बार जब Ransomware आपके System में आ जाता हैं, तो उसके बाद यह आपके computer screen को Lock कर सकता है, या फ़िर उसमें मौजूद Files को encrypt करना शुरु कर सकता है। ऐसा होने पर आपको computer screen पर कोई Pop-up message या फ़िर कोई Notification Grphics के रूप में दिखाई देने लगता हैं।

इस तरह के notification के जरिए Users को उन्हीं के files को फ़िर से access करने के लिए पैसों के भुगतान या अन्य दुसरे किसी तरह से फिरौती का भुगतान करने को कहा जाता है। लेकिन, यह जरुरी नहीं है कि कोई भी Payment करने के बाद victim को अपने files तक access मिल जाएगा।

यदि Ransomware Victim फिरौती का भुगतान करता है, लेकिन Cyber attackers decryption key नहीं देते हैं, तो Victim को Data और financial दोनों का नुकसान होते हैं।

Ransomware Examples:

पिछले कुछ वर्षों में पाए गए Well-known ransomware हैं:- BadRabbit, Ryuk, Jigsaw, Locky, Petya, WannaCry, GoldenEye, Shade/Troldesh.


Ransomware से कैसे बचें?

किसी भी प्रकार के रैनसमवेयर और मैलवेयर के से बचने का सबसे अच्छा तरीका एक cautious और conscientious कंप्यूटर उपयोगकर्ता होना है।

Tips for Avoiding Ransomware:

  • किसी भी तरह के Pirated copy और Cracked PC Software को install करने से बचें।
  • Email के जरिए आने वाले लुभावने Advertisment पर Click ना करें।
  • Browsing करते समय किसी भी तरह के suspicious लगने वाले वेबसाइट पर ना जाएं।
  • हमेशा अपने Operating System, Software और Application को update करें।
  • अपने Antivirus को update करने के साथ ही Autometic Scan Mode को on करके रखें।
  • Regular basis पर अपने Data का Backup लें और Backup files को Secure करें।

आपको इस बारे में सावधान रहने की आवश्यकता है कि आप internet से क्या डाउनलोड करते हैं और किस प्रकार के Link पर Click करते हैं।

यह भी पढ़ें:-

दोस्तों, हमे उम्मीद हैं कि Ransomware Malware पर हमारे लेख से आपको के बारे में अच्छी जानकारी मिली होगी। अगर आपको #रैनसमवेयर पर दी गयी यह जानकारी अच्छी लगी, तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें।

Leave a Comment

error: