December 28, 2014

Application Layer of OSI Model In Hindi (Application Layer Kya Hai..?)

Share !

Application layer यूज़र की एप्लीकेशन और नेटवर्क के बीच इंटरफ़ेस प्रोवाइड करती है। जैसे की एक वेब ब्राउज़र (Internet explorer, Mozilla fire-fox, chrome) या कोई ईमेल क्लाइंट (Outlook, Thunderbird). ये सभी applications आपको network पर काम करने के लिए इंटरफ़ेस provide करती है।

यूज़र की application एप्लीकेशन लेयर में नहीं होती है बल्कि protocol होता है जो यूज़र के operations को control करता है। यूज़र एप्लीकेशन से interact करता है और application network से interact करती है। जैसे की कोई web address open करना।

application-layer-of-osi-model-in-hindi


Application layer पर बहुत से protocol यूज़ किये जाते है जिनमे से कुछ निचे दिए जा रहे है।


  • HTTP (Hyper text transfer protocol)
  • FTP (File Transfer Protocol)
  • POP 3 (Post Office Protocol)
  • SMTP (Simple mail transfer protocol)
  • Telnet 


ये सभी protocols network से interact करने के लिए यूज़ किये जाते है। Application layer कुछ tasks perform करती है जो नीचे दिए जा रहे है।

Communicate करने वाले partners को application layer पहचानती है।
Data की availability का track रखना।
Communication को synchronize करना।
Basic email सर्विस प्रोवाइड करना।
File transfer शुरू करना। 

No comments:
Write comments

Recommended Posts × +