Analog और Digital Communication क्या होता हैं..?


ये हम सभी जानते है कि सूचना का आदान प्रदान एक मुलभुत किय्रा है Communication से मतलब किसी Information और message को बोधगम्य(Conceivable) रूप में एक स्थान से दुसरे स्थान तक Transfer(स्थानांतरण) करना।

Information का आदान प्रदान Graphical Symbols जैसे हांथों ,आँखों और इशारो से किया जा सकता है या तो ध्वनि संकेतों जैसे ढोल बजाकर किया जा सकता है। आधुनिक युग में अधिक दुरी पर Information को send करने के लिए Electrical Signal का उपयोग होता है। इस प्रक्रिया में पहेले सूचना को electrical संकेतो में Convert किया जाता है फिर उसे भेजा जाता है।

Electronic Circuit दो प्रकार के होते है :

  • Analog Circuit
  • Digital Circuit

Analog Communication में प्रयुक्त Circuit Analog Circuit कहलाते है और इनमे Analog Signal Use होते है, जो Continuous होते है।


Digital Communication में प्रयुक्त Circuit Digital Circuit कहलाते है और इनमे Digital Signal Use होते है, जो Discrete( विविक्त ) होते हैं।


analog-and-digital

Analog Signal:  ये वे होते है जिनमे वोल्टेज  अथवा विधुत धारा का मान समय के साथ निरंतर बदलता जाता है।  Analog Signal के लिए Decimal Number System प्रयुक्त होता है।

Digital Signal: ये वे होते है जिनमे वोल्टेज अथवा विधुत धारा के केवल दो स्तर होते है। Digital Signal के लिए Binary Number System प्रयुक्त होता है जिसमें signal के दो स्तर 0 और 1 होते है Bits कहलाते है।

वास्तव में संसार की अधिकाँश राशियाँ Analog है किन्तु फिर भी अधिकाँश इन Analog राशियों को Digital form में Convert करके Digital Signal’s की Processing की जाती है


Leave a Comment

error: