IP Address क्या है? What is Internet Protocol (IP)? हिंदी में जानिए!

आज हम आपको Internet Protocol (IP) Kya Hai के बारे में बताने जा रहे हैं। यहाँ हम आज आपको IP address के Class और Types of IP addresses की जानकारी देंगे।

तो चलिए Computer Network में IP Address क्या हैं? जानते हैं।

IP Address Kya Hai Hindi me:

IP ​​(Internet Protocol) Address, आपके network hardware के लिए Unique Address है। यह आपके Computer को Network की सहायता से दुनिया भर के अन्य उपकरणों (device) से जोड़ने में मदद करता है। एक IP Address, numbers और characters से बना हो सकता है।

अगर IP Address का एक उदाहरण लेते हैं: 192.407.64.512, (यह एक numerical label है जो किसी Network में जुड़े हुए Device को दिया जाता है, जो दो machine के Communication के लिए ज़रूरी होता है।)

IP Address Hindi me
What is IP Address in Hindi

IP Address का full form: Internet Protocol Address होता है। सभी Devices जो एक Internet Connection से जुड़े होते हैं, उनके पास एक Unique IP address होता है। इनमें मुख्य रूप से Number होते हैं, लेकिन कुछ IP में Characters भी शामिल हो सकते हैं।

Computer Network में, हर एक कंप्यूटर या उपयोगकर्ता के लिए पूरी तरह से Unique IP address generate होता है। इन Unique IP के Generate से Routers को यह जानने में मदद मिलती है कि वे इंटरनेट पर कहां सूचना भेज रहे हैं। वे यह भी सुनिश्चित करते हैं कि जो Information भेजा जा रहा है, क्या वह सही कंप्यूटर या उपयोगकर्ता को मिल रहे हैं?

ठीक जैसेः किसी Post Office को आपके भेजे जाने वाले letter/ Courier के लिए एक Physical address की आवश्यकता होती है, उसी प्रकार से आपके राउटर को आपको निश्चित Website पर पहुंचाने के लिए एक IP address की आवश्यकता होती है जिसे आप Search कर रहे हैं।

आसन शब्दों में IP Address की परिभाषा:

IP Address वे पते हैं जो कंप्यूटर और उपकरणों को एक दूसरे के साथ संवाद करने की अनुमति देते हैं। बिना IP Address के, किसी Computer Systemको नहीं पता होता कि कौन सा System, किस Machineसे Communicate कर रहा हैं।

IP address के Class

IPv4 addressing System में IP address को 5 Classes में बांटा (Classify) जाता है। सभी Classes की पहचान आईपी एड्रेस के पहले Octet द्वारा की जाती है।

IPv4 address के different Classes:

IP address ClassAddress range
Class A1.0.0.1 to 126.255.255.254
Class B128.1.0.1 to 191.255.255.254
Class C192.0.1.1 to 223.255.254.254
Class D224.0.0.0 to 239.255.255.255
Class E240.0.0.0 to 254.255.255.254

(ध्यान दे: Class A में Ranges 127.x.x.x, localhost के लिए Reserve होता हैं।), हम IP address के Class को विस्तार से अन्य लेख में जानेगें।


अब तक हमने IP Address को जाना अब हम इसके अलग अलग प्रकार के बारे में, जैसे कि Private IP addresses, Public IP addresses, Static IP addresses और Dynamic IP addresses के बारे में थोडा जान लेते हैं:-

IP Address के प्रकार – Types of IP addresses

IP addresses में कई different categories के IP addresses होते हैं जिनमें से प्रत्येक में विभिन्न प्रकार के IP Address आते हैं। लेकिन हम यहाँ 4 प्रकार के IP Address को जानेगे।

आइए हम यहाँ Different categories के IP addresses और Types of IP addresses के बारे में जानते हैं:-

Private IP Address

एक private IP address आपके Device का वह पता है जो home or business network से जुड़ा हुआ होता है। यदि आपके पास एक ISP (Internet Service Provider) से जुड़े different devices हैं, तो आपके सभी devices में एक unique private IP address होगा।

For example 192.168.1.1

Public IP Address

वह IP address जिसमें आपके home or business network का address जुड़ा होता है, यानि यह उसका मुख्य IP address होता है। यह IP address ही आपको दुनिया से जोड़ता है, और यह सभी Users के लिए unique होता हैं।

आप अपना Public IP Address जानने के लिए, अपने Web-Browser से https://www.whatismyip.org/ पर जाकर भी पता लगा सकते हैं।

Static IP Address:

जैसा कि नाम से ही पता चलता है, Static IP Addresses आमतौर पर कभी बदलते नहीं हैं। यह एक Permanent IP address के रूप में काम करते हैं और किसी भी तरह के communication के लिए simple और reliable तरीका हैं।

किसी System के Static IP adress से, हम कई तरह के details जैसेः Continent, Country, Region और City का पता लगा सकते हैं कि इस्तेमाल किया जा रहा Computer System/Device कहाँ हैं?

(ध्यान दे: Network administration की मदद से Static IP Addresses को भी बदला जा सकता है।)

Dynamic IP Address:

यह एक प्रकार के temporary IP address हैं। जब भी कोई Computer या Device इंटरनेट से जुड़े होते हैं, तब यह IP address उन्हें assign किया जाता हैं। इन IP addresses को DHCP (Dynamic Host Configuration Protocol) का उपयोग करके IP address दिया जाता है।

(ध्यान दे: Static IP addresses को dynamic IP addresses के मुकाबले में कम सुरक्षित माना जाता है क्योंकि Static IP को track करना आसान होते हैं।)

इन सबके अलावे भी 2 तरह के Website IP Addresses होते हैं:- 1). Shared IP Address और Dedicated IP Address

इन्हें भी पढ़ें:


आज हमने “IP Address kya hai” के बारे में जाना, आप हमारी “What is IPv4 and IPv6 in Hindi” को एक बार ज़रूर पढ़ें और इसे अपने दोस्तों के साथ ज़रुर शेयर करे।

अगर आप IP address in Hindi notes से जुड़ा हुआ कोई जानकारी देना चाहते हैं या सवाल पूछना चाहते है.? तो आप हमे Comment कर सकते है।

>

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: