Presentation Layer of OSI Model In Hindi (Presentation Layer Kya Hai..?)


Presentation layer OSI model की 6th layer होती है। ये layer data के presentation के लिए responsible होती है। ये layer ये verify करती है की जो data sender भेज रहा है वो receiver side के समझ में आये। इसके लिए दोनों receiver और sender कुछ data standards follow करते है जो नीचे दिए जा रहे है –

Data standards

  • Text – RTF, ASCII
  • Images – JPG, GIF
  • Audio – MP3, WAV
  • Movies – AVI, MPEG

ये कुछ common data standards है जिन पर दोनों side agree करती है। उदाहरण के लिए यदि sender कोई image भेज रहा है तो वह JPG format में होनी चाहिए ताकि receiver उसे देख सके।


Presentation layer of osi model
function of presentation layer

ये layer data की formatting करती है। इस layer से data सीधा application layer पर जाता है, जँहा वो यूज़र को show होता है। इसलिए ये सारी जिम्मेदारी presentation layer की होती है की data यूज़र को कैसे present होगा।

यदि sender और receiver एक ही format को support नहीं करते है तो presentation layer translation और conversion की services भी प्रोवाइड करती है।


Presentation layer के कुछ functions नीचे दिए जा रहे है।

  • Presentation layer डेटा को translate करती है।
  • Presentation layer data को encrypt करती है।
  • Presentation layer data को compress करती है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: !! Content is protected !!