Data Structure क्या हैं? Types of Data Structure In Hindi


Data किसी भी तरह के facts और figures का एक Collection है, जो किसी particular format में होता हैं।

Computer में, Data Structure एक बहुत ही Important Programming Concept हैं। यह हमें आसान और Efficient तरीके से किसी Data को Store करने, Organize करने और ज़रूरत होने पर Data को Retrieve करने में help करता हैं।

Data Structure in Hindi:

Data Structure क्या हैं? 

किसी Computer System में Data को Store और Organize करने का एक Process है, जिससे कि हम Data का आसानी से इस्तेमाल कर सकें। Data को इस प्रकार Organize कर रखा जाता है कि उसको बाद में किसी भी समय आसानी से Access किया जा सकें।

What is Data Structure in Hindi

Data Structure kya hai

किसी Data को अलग-अलग तरीकों से Logically या Mathematically Organize करना,  Data Structure कहलाता है।


 यह भी पढ़े:  ➧   C in Hindi – C Language Kya hai

Data Structure Example:

मान लीजिये कि हमारे पास कुछ Data है, जिसमें किसी Shop के Customer का नाम “Kanan” और उसकी उम्र 26 है। यहां “Kanan” एक String Data का प्रकार है और 26 Integer Data का।

हम इस Data को Customer Records के रूप में organize कर सकते हैं, जिसमें Customer का नाम और उम्र दोनों होंगे। अब हम Customer’s के नाम से जुड़े Record को किसी File में, Data Structure के रूप में Collect कर रख सकते हैं। For Example “Mohan” 45, “Rahul” 21, “Priti” 23

Types of Data Structure in hindi:

Data Structures को उनकी Properties के अनुसार कई अलग अलग प्रकार में बाँटा गया है। मुख्य रूप से Data Structure दो प्रकार के होते है, जिनको कई Sub-type में बटां जाता हैं:-


types of data structure in hindi
Data Structure types hindi
  1. Primitive Structure, और
  2. Non-Primitive Structure

तो चलिए जानते हैं कि Primitive Data Structure और Non-Primitive Data Structure क्या होता हैं?:

#1. Primitive Data Structure:

Primitive Data, उन Data Structure को कहते है जिनको Computer द्वारा दिये गये Instructions से Direct Operate किया जा सकते है। इन्हें Built-in Data Types भी कहते है।


Primitive Data Structure के प्रकार:-

  • Integer: किसी Integer को Define करने के लिए ‘int‘ का use किया जाता है, इसमे Decimal के अलावा अन्य सभी संख्याएं होती हैं। (Example: int a =7;)
  • Character: इसका इस्तेमाल Alphabet को Store करने के लिए किया जाता है, Character को Define करने के लिए char का प्रयोग किया जाता है तथा उस Character को char ‘x’ के रूप में लिखा जाता हैं।
  • String: Character के Groups को String कहा जाता है और इसे Define करने के लिए string का use होता है। String को string “Shivam” के रूप में लिखा जाता हैं।
  • Float: किसी Decimal Number को Float में define करते है। Example: float a =4.2;

यह भी पढ़ें: ➧What is OOPs Concept in Hindi – C++ Programming Hindi me

#2. Non-Primitive Data Structure:

Non-Primitive, वैसे Data Structure को कहते है जो Computer द्वारा दिये गये Instructions से सीधे Operate नहीं होती या किया जा सकता है और यह अलग अलग Primitive Data Structure के Combination हैं। इन्हे Derived Data Types भी कहते है।


Non-Primitive Data Structure के प्रकार:

  • Linear Data Structure: इसमें Data Value को रैखिक रूप में Store और Organize किया जाता है, जिसमें Data Value एक रेखा के रूप में दूसरे से जुड़ा होता है। Example: Array, Stack, Queue, linked lists आते हैं।
  • Non-Linear Data Structure: जिसमें Data Value को Sequential तरीके से Organize नहीं किया गया होता है। इसमें एक Data Value किसी Other Data Value से जुड़ा हो सकता हैं। Example: Tree, Graph आदि।

यह भी पढ़ें: ➧ जावा प्रोग्रामिंग क्या है? (What is Java in Hindi)

Operations on Data Structures हिंदी में:

किसी Data पर किए जाने वाले Important Operations है:

  • Insertion: Data Structure में एक नए Data Value को जोड़ना।
  • Deletion: किसी Data Value को, Data Structure से हटाना।
  • Searching: पहले से मौजूद Data Structure में किसी Data Value को खोजना।
  • Traversal: Data Structure में मौजूद Data Value को संसाधित (processing) करना।
  • Sorting:  किसी Specific Order में Data को Arrange करना।
  • Merging: दो समान Data Structure के Values को एक साथ मिलाना।

आप हमे जरूर बताये आपको “डाटा स्ट्रक्चर के बारे में” दी गयी जानकारी कैसी लगी, कोई सुझाव या जानकारी हो तो जरूर Comment ज़रूर करें। आप “Data Structure हिंदी में” को अपने friends के साथ जरुर Share जरुर करें।


Leave a Comment

error: